Journey To Become Super Star Nawazuddin Siddiqui After The Rejection Of 12 Years In Bollywood, 12 के Rejection के बाद Super Star Nawazuddin Siddiqui बनने की संघर्ष गाथा

Super Star Nawazuddin Siddiqui After The Rejection Of 12 Years In Bollywood Biography

बॉलीवुड सिनेमा का एक ऐसा एक्टर जिसे पूरी इंडस्ट्री ने 12 साल तक रिजेक्ट किया था.

Nawazuddin Siddiqui Biography

 लेकिन इन्होंने अपने संघर्ष और क़ाबिलियत के बल पर आज जो मुकाम हासिल किया हैं वो किसी चमत्कार से काम नहीं लगता. 

इनका नाम हैं नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी जिसे कई लोग नवाज़ भाई के भी नाम से जानते हैं. नवाज़ुद्दीन ने बॉलीवुड के तीनों ख़ान के साथ बेहतरीन फ़िल्में की हैं. लोगों को इनकी फ़िल्में और दमदार एक्टिंग स्किल्स बहुत ही पसंद हैं, फिर चाहे वो गैंग ऑफ़ वास्सेपुर हो या फिर रईस या किक. 


जन्म, परिवार और एजुकेशन 

नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी का जन्म  19 May 1974 को मुज़फ्फरनगर जिले के बुधाना उत्तर प्रदेश में हुआ था. ये एक मुस्लिम ज़मींदार घराने से ताल्लुक़ रखते हैं. जिन्हें नम्बरदार कहा जाता था. इनका बचपन उत्तरखंड में बिता और Gurukul Kangri Vishwavidyalaya, Haridwar से इन्होंने  Bachelor of Science in chemistry में  अपना ग्रेजुएशन किया. इसके बाद इन्होंने  Vadodara में एक केमिस्ट के तौर पर काम किया, लेकिन इनका मन नहीं लगा और नौकरी छोड़ कर दिल्ली चले आये. 



Super Star Nawazuddin Siddiqui Success Story

बॉलीवुड का सफ़र, रिजेक्शन  और स्टारडम की कहानी 

दिल्ली में ही एक बार ये अपने दोस्त के साथ मंडी हॉउस में थिएटर्स प्ले देखने गए और वहीं से ही इन्होंने एक्टिंग करने का मन बना लिया. इसके बाद इन्होंने अपने दोस्तों के साथ लगभग 10 थिएटर्स प्ले किया और एनएसडी में एडमिशन के लिए अप्लाई कर दिया और इन्हें दाख़िला मिल गया. साल 1999 में यहाँ से ग्रेजुएशन करने के बाद ये मुंबई चले गए. 

लेकिन यहाँ पर इन्हें सिर्फ़ 1-2  मिनट के ही रोल के लिए कास्ट किया जाता था. इनका पहला बॉलीवुड डेब्यू सुपरस्टार आमिर ख़ान की फ़िल्म सरफ़रोश में बहुत काम समय के लिए ही था लेकिन उसमें इन्होंने दमदार एक्टिंग की थी. इसके बाद ये राम गोपाल वर्मा के शूल मूवी में वेटर के रोल में काम किया, फिर जंगल और इसके बाद मुन्ना भाई MBBS में इन्हें एक पॉकेट मार का रोल दिया गया. इन्होंने टेलीविज़न में भी काम करने के लिए कोशिश की लेकिन इन्हें काम नहीं मिला और  इसी तरह से 12 साल कड़ी मेहनत करने के बाद इन्हें साल 2012 में लीड रोल के लिए पतंग मूवी में कास्ट किया गया. इस फ़िल्म में नवाज़ुद्दीन की एक्टिंग की अमेरिकन फ़िल्म क्रिटिक्स  Roger Ebert ने खूब सराहना की. इसके बाद अनुराग कश्यप की फ़िल्म गैंग ऑफ़ वास्सेपुर 2 में फैज़ल के किरदार ने ये साबित कर दिया कि नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी एक सुपर स्टार हैं. इसके बाद इन्होंने लंचबॉक्स, तलाश, कहानी और किक जैसी फ़िल्मों में एक हीरो की भूमिका में काम किया. 

इसके बाद इन्होंने नेशनल अवॉर्ड विनिंग एक्टिंग की फिर चाहे वो  Bajrangi Bhaijaan हो या  Manjhi - The Mountain Man. 

फ़िल्म मंटो के लिए इन्हें Best Actor at the 2018 Asia Pacific Screen Awards दिया गया. 

इंटरनेशनल बेस्ट सेलर नॉवेल के राइटर  Paulo Coelho ने सेक्रेड गेम्स में नवाज़ुद्दीन की एक्टिंग के लिए उनकी खूब तारीफ की थी और कहा था कि यह नेटफ्लिक्स के बेहतरीन वेब सीरीज में से एक हैं जिसमें नवाज़ ने काम किया हैं. 



Facts About Nawazuddin Siddiqui

नवाज़ुद्दीन सिद्दिक़ी के 12 सालों की संघर्ष के अनसुने क़िस्से 

  • नवाज़ुद्दीन को शुरुआती 12 साल तक इंडस्ट्री में उनके रंग की वजह से काम नहीं मिला था. लोग इन्हें बतौर एक्टर कास्ट इसलिए नहीं करते थे क्योंकि ये गोरे नहीं थे. एक इंटरव्यू में इन्होंने बताया था कि ये जब भी किसी डायरेक्टर या प्रोडूसर के पास रोल के लिए जाते तो उनके अस्सिटेंट इन्हें देखकर हँसते थे. 

  • नवाज़ुद्दीन ने थिएटर्स के दिनों में एक चौकीदार की नौकरी की थी. वो 9 से 5 नॉएडा के एक टॉय कंपनी में काम करते थे और शाम को रिहर्सल करते थे. 

  • मुंबई में अपने स्ट्रगल के दिनों में इन्होंने अपने एक एनएसडी के सीनियर के घर में रहने के लिए उनके लिए कुकिंग करते थे. 

  • नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी बॉलीवुड के अकेले एक ऐसे एक्टर हैं जिनकी 8 फ़िल्मों को Cannes Film Festival में स्क्रीनगिंग के लिए चुना गया हैं. 

  • नवाज़ुद्दीन को रणवीर सिंह की डेब्यू फ़िल्म बैंड बजा बारात के लिए एक्टिंग वर्कशॉप देने के लिए बुलाया जाता था, जबकि ये उस समय पॉपुलर एक्टर नहीं थे. 

  • आप सबने भले ही नवाज़ुद्दीन सिद्दिक़ी को बतौर लीड गैंग ऑफ़ वास्सेपुर में देखा हो लेकिन उनकी पहली लीड फ़िल्म मिस लवली थी. जो 2012 में आने वाली थी लेकिन प्रोडक्शन में लेट होने के कारण ये 2014 में रिलीज़ हुई. 

  • नवाज़ ने एक इंटरव्यू में बताया था की ये फ़िल्मों में पैसा कमाने नहीं बल्कि नाम कमाने  के लिए आये थे. 

  • नवाज़ुद्दीन को राजपाल यादव ने अपने साथ उनके संघर्ष के दिनों में रखा था.

  •  साल 2013 में नवाज़ ने पहली बार रैम्पवॉक किया था. 

  • फ़िल्म शूल में वेटर के लिए इन्हें 1500 रुपए मिलने थे लेकिन इन्हें ये रुपए नहीं दिए गए थे और जब ये रुपए मांगने जानते थे  तब इन्हें पैसे नहीं मिलते थे और ये कहते थे कि अगर पैसे नहीं हैं तो खाना ही खिला दो और कई दिनों तक नवाज़ ऐसे ही खाना खा कर वापस आ जाते थे. 

  • एक शो के प्रोडूसर ने इन्हें कहा था कि  अगर मैं तुम्हें शो मैं कास्ट कर लूंगा तो मुझे दो एक्स्ट्रा लाइट तुम पर ही लगाने पड़ेंगे. 

  • गैंग ऑफ़ वास्सेपुर के बाद नवाज़ ने 275 स्क्रिप्ट बिना देखे ही मना कर दिए थे क्योंकि ये सब फैज़ल के तरह के किरदार थे. 



नवाज़ुद्दीन की फ़िल्में और अवार्ड्स 

  • Sarfarosh
  • Shool

2000

  • Jungle
  • Dr. Babasaheb Ambedkar

2003

  • The BypassFirst bandit
  • Mudda – The Issue
  • Munna Bhai M.B.B.S.

2006

  • Family

2007

  • Aaja Nachle
  • Ek Chalis Ki Last Local
  • Manorama Six Feet Under
  • Black Friday

2008

  • Black & White

2009

  • Firaaq
  • New York
  • Dev.D

2010

  • Peepli Live

2011

  • Dekh Indian Circus

2012

  • Kahaani
  • Patang
  • Paan Singh Tomar
  • Gangs of Wasseypur – Part 1
  • Gangs of Wasseypur – Part 2
  • Chittagong
  • Talaash: The Answer Lies Within
  • Miss Lovely

2013

  • Aatma - Feel It Around You
  • Shorts
  • Monsoon Shootout
  • The Lunchbox
  • Anwar Ka Ajab Kissa

2014

  • Kick
  • 2015
  • Lateef
  • Badlapur
  • Bajrangi Bhaijaan
  • Manjhi – The Mountain Man

2016

  • Raman Raghav 2.0
  • Te3n
  • Lion
  • Freaky Ali

2017

  • Haraamkhor
  • Raees
  • In Defence of Freedom
  • Mom
  • Munna Michael
  • Babumoshai Bandookbaaz
  • Carbon: The Story of Tomorrow
  • Man from Mars

2018

  • Mukkabaaz
  • Genius
  • Manto

2019

  • Petta
  • Thackeray
  • Photograph
  • Housefull 4
  • Roam Rome Mein
  • Motichoor Chaknachoor

2020

  • Ghoomketu
  • Raat Akeli Hai
  • Bole Chudiyan
  • Serious Men



Awards and Recognition

2012

  • National Film AwardsTalaash: The Answer Lies Within, Kahaani, Gangs of Wasseypur, Dekh Indian Circus
  • Talaash: The Answer Lies WithinZee Cine Award for Best Actor in a Supporting Role – Male
  • Talaash: The Answer Lies WithinScreen Award for Best Supporting Actor
  • Talaash: The Answer Lies WithinAsian Film Award for Best Supporting Actor
  • New York Indian Film FestivalDekh Indian CircusAward for Best Actor
  • GQ Men of the Year Awards For work done in 2012Breakthrough Talent
  • Gangs of WasseypurLions Favourite Actor

2013

  • The Lunchbox Filmfare Award for Best Supporting Actor
  • Renault Star Guild Awards The LunchboxBest Actor in a Supporting Role

2015

  • Bajrangi Bhaijaan Zee Cine Award for Best Actor in a Comic Role
  • Badlapur Zee Cine Award for Best Performance in a Negative Role

2018

  • IIFA Awards Best Performance in a Supporting Role (Male)
  • Asia Pacific Screen Awards Manto Best Performance by an Actor
  • IReel AwardsSacred GamesBest Actor (Drama)

2020

  • Filmfare OTT AwardsRaat Akeli HaiBest Leading Actor in A Web Original Film

International recognition

  • 2012Asian Film Awards Talaash: The Answer Lies WithinBest Supporting Actor
  • 2012"THUMBSUP TROPHY" by Roger Ebert 'Patang'
  • 2012NYIFFDekh Indian Circus Best Actor
  • 2013Asia Pacific Film Festival 'The Lunchbox' Best Supporting Actor
  • 2014Chicago South Asian Film Festival Honored for Outstanding Achievement in Cinema
  • 2016FANCINE festival de cine fantastic de la Universidad de la Malaga 'Raman Raghav 2.0'Official Jury Prize
  • 2016Asia Pacific Screen Awards 'Raman Raghav 2.0' Best Performance by an Actor
  • 2017NYIFF'Haraamkhor' Best Actor
  • 2018Asia Pacific Screen Awards 'Manto' Best Performance by an Actor
  • 2018IReel Awards'Sacred Games'Best Actor (Drama)
  • 2019Cardiff International Film festival Bestowed with the Golden Dragon Award for Excellence in Cinema in the Global Arena
  • 2019Asian Film Talent award (SIFF)Sacred GamesHonored by Lesley Ho Asian Film Talen