Yoga tips: Anulom-vilom helps to get relief from migraine, see the benefits in a week, अनुलोम-विलोम करने से दूर होती है माइग्रेन की तकलीफ, हफ्ते भर में देखिये लाभ

Anulom-vilom helps to get relief from migraine, see the benefits in a week

योग करने से होने वाले लाभों के बारे में हम कई सालों से सुनते और देखते आ रहे हैं. आज के समय में हर कोई योग के माध्यम से खुद को स्वस्थ रखने ओर ज्यादा जोर दे रहा है. यही कारण है कि भारत ही नहीं पूरे विश्व कई सारे लोग योग कर रहे हैं. नियमित रूप से योग करने से आप कई सारी बीमारियों से दूर रहते है साथ उनका उपचार भी योग के जरिए हो जाता हैं. कई सारी ऐसी बीमारियां है जिनका इलाज महंगी दवाइयां नहीं कर पाती और योग से आपको उनसे छुटकारा मिल जाता हैं.

. योग आपको माइग्रेन की दर्द से बचाता हैं, योग आपके मूड को शांत रखता हैं जिससे आपके सर का दर्द भी दूर हो जाता हैं. माइग्रेन का इलाज मेडिकल साइंस में बहुत कम हैं, लेकिन योग करने से आप सिर्फ एक हफ्ते में इसके दर्द से राहत पा सकते हैं. माइग्रेन की बीमारी से पीड़ित लोगों को सर दर्द, चक्कर आना,बेचैनी, आवाज से सेंस्टिविटी जैसी तकलीफें होती हैं. आकड़ों के मुताबिक दुनिया भर में इस बीमारी से लाखों लोग जूझ रहे हैं. इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे है कि सिर्फ अनुलोम-विलोम करने से मात्र माइग्रेन के दर्द आपको हफ्ते भर में राहत मिल जायेगा. 

सर दर्द को दूर करता है अनुलोम-विलोम 

अनुलोम-विलोम प्राणयाम का एक रूप है, जो साँस संबंधित योग है. इसे करने से आपको माइग्रेन के दर्द से राहत मिल जाता है और आप इस बीमारी से निजाद भी पा सकते हैं. इसे करने से किसी भी प्रकार का कोई साइड-इफ़ेक्ट नहीं होता हैं. अगर आप रोज 15 मिनट अनुलोम-विलोम करते है तो आपका दिमाग शांत रहेगा, तनाव  से मुक्त रहेंगे. जिससे माइग्रेन की तकलीफ दूर हो जाती हैं. आप प्राणयाम करते समय ओमकार या गायत्री मंत्र का उच्चारण भी कर सकते हैं. 

मोटापे को कम करने के लिए बेस्ट है ये योगासन

मूड बेहतर करता है

अगर नियमित रोज से अनुलोम-विलोम करते है तो आपका मूड बेहतर रहता है. साथ ही आपका गुस्सा कंट्रोल में रहता हैं. आप इस योगासन को हर रोज कीजिए, इससे आपकी एंग्जायटी की समस्या भी दूर हो जाएगी. आप डिप्रेशन से मुक्त हो जायेंगे और आपकी मानसिक स्टेबिलिटी बनेगी और आप रिलैक्स फील करेंगे. 

नींद अच्छी आती है

अगर आपको नींद नहीं आती है तो आप हर रोज अनुलोम-विलोम करना शुरू कर दीजिये. इससे आपको अच्छी नींद आने में मदद मिलेगी और आपकी स्लीपिंग प्रॉब्लम भी दूर हो जाएगी. माइग्रेन के कारण आपका मानसिक तनाव बढ़ता है जिससे नींद कम हो जाती है. इसलिए अनुलोम-विलोम करने से आपके शरीर में पारसिम्पथेटिक नर्वस सिस्टम एक्टिव होता हैं जो आपको रिलैक्स कर देता है और आपको अच्छी नींद आ जाती हैं. 

स्किन के लिए फायदेमंद 

अनुलोम-विलोम करने से आपके शरीर का खून शुध्द होता है. साथ ही ब्लड में ऑक्सीजन की सप्लाई बेहतर रहती है. जिससे चेहरे पर ग्लो आता हैं और आप के चेहरे पर पिम्पले नहीं होते हैं. साथ ही त्वचा बेहतर तरीके से सांस ले पाता है और इससे चेहरे पर निखार आता हैं.