Why Sunny Deol Did not Talk To Shahrukhaan Since Last 16 Years? Biography Of Sunny Deol, 16 साल तक शाहरुख़ ख़ान से क्यों बात नहीं की थी सनी देओल ने? सुपरस्टार सनी देओल की पूरी कहानी

Why Sunny Deol Didn

"चिल्लाओं मत वर्ना ये केस यही रफ़ा दफ़ा कर दूंगा न तारीख न सुनवाई, सीधा इन्साफ, जब ये ढ़ाई किलो का हाथ किसी पर पड़ता है तो वो उठता नहीं उठ जाता हैं." जैसे ऐवरग्रीन डायलाग को शायद ही कोई भूल पाया हो.

Biography Of Superstar Sunny Deol

 ये डायलाग बॉलीवुड जगत के उस डैशिंग एक्टर के हैं जिन्हें पूरी दुनिया डैशिंग देओल यानी सनी देओल के नाम से जानती हैं.  सनी देओल ने बॉलीवुड में अपनी जगह एक्शन और रोमांटिक दोनों तरह के अभिनेताओं के लिस्ट में बनाये हुए हैं. कई एक्टर आये और चले गए लेकिन सनी देओल ने अपनी जगह बनाये रखी. 

इन्होंने कई सारे एक्शन और रोमांटिक फ़िल्मों बतौर एक्टर काम किया हैं फिर चाहे वो दामिनी हो, घायल हो, ग़दर हो या फिर बेताब. हर फ़िल्मों में इनका जादू बरकारर रहा. 

जन्म, फैमिली और एजुकेशन 

सनी देओल बॉलीवुड के ही-मैन धर्मेंद्र के बड़े बेटे हैं जिनका जन्म 19 अक्टूबर 1957 को साहनेवाल पंजाब में हुआ था. इनके पिता धर्मेंद्र बॉलीवुड के सुपरस्टार थे और इनकी माँ का नाम प्रकाश कौर था. सनी देओल बचपन से ही बहुत ही होनहार थे और इनका इंटरेस्ट स्पोर्ट में खूब था और स्कूल के हर स्पोर्ट में इनका सिलेक्शन भी हो जाता था. लेकिन घर वालों की रज़ामंदी नहीं थी इसलिए इन्होंने भी बॉलीवुड में अपना करियर बनाने का निश्चय किया. इसके बाद इन्हें लंदन के Birmingham Theatre School में एक्टिंग की पढ़ाई करने के लिए भेजा गया. जहाँ पर सनी ने एक्टिंग की पढाई की. 



Betaab Film sunny Deol Biography

फ़िल्म डेब्यू और सक्सेस 

Birmingham Theatre School से पढ़ने के बाद सनी देओल वापस इंडिया आ गए और इनकी पिता ने इन्हें अपनी प्रोडक्शन हाउस से इन्हें फ़िल्म बेताब में बतौर  एक्टर कास्ट किया, इस फ़िल्म में इनके साथ सारा अली ख़ान की मम्मी यानी सैफ अली ख़ान की पहली पत्नी अमृता सिंह को लीड फीमेल एक्टर के रोल दिया गया. फ़िल्म बेताब हिट साबित हुई और इसके लिए इन्हें बेस एक्टर फॉर filmfare अवॉर्ड के लिए नॉमिनेट किया गया. इसके बाद राहुल रवैल की फ़िल्म अर्जुन ने इन्हें एक्शन हीरो के तौर पर पेश किया. इसके बाद इन्होंने कई सारी हिट फ़िल्मों में बतौर अभिनेता काम किया. साल 1999 में इन्होंने अपना Directorial Debut किया जिसमें इन्होंने अपने छोटे भाई बॉबी देओल और उर्मिला मातोंडकर के साथ सपोर्टिंग रोल भी किया. 

इसके बाद साल 2001 में निर्देशक अनिल शर्मा की फ़िल्म 'ग़दर: एक प्रेम कथा' इनकी सबसे बड़ी हिट फ़िल्म साबित हुई और लोगों ने इनके रोल को खूब सराहा भी. ये फ़िल्म सन् 1947 के विभाज़न पर आधारित एक रोमांटिक एक्शन ड्रामा फ़िल्म थी. जिसमें इन्होंने एक ट्रक ड्राइवर तारा सिंह का किरदार निभाया था जो एक मुस्लिम लड़की से प्यार करता हैं. 

इस फ़िल्म ने उस समय सबसे ज़्यादा कमाई की थी, और इसमें इनका वो हैंडपंप उखाड़ने वाला सीन कभी न भूलने वाला हैं. 

लोगों ने इन्हें फ़िल्म घायल में खूब पसंद किया था. 



सनी देओल के बारे में कुछ दिलचस्प बातें

सनी देओल के बारे में कुछ दिलचस्प बातें 

  •  सनी बचपन से ही बहुत शर्मीले थे, इसलिए इनके पिता ने इन्हें लंदन में एक्टिंग सिखने के लिए भेजा ताकि सी बहाने ये लोगों से फैमिलियर भी हो जायेंगे. 
  • सनी देओल को बॉडीबिल्डिंग का इंस्प्रेशन अमेरिकन एक्टर Sylvester Stallone से मिली और उन्हीं से प्रेरित होकर इन्होंने अपनी बॉडी पर काफी ध्यान दिया. 
  • सनी देओल का डायलाग 'ये ढ़ाई किलो का हाथ' सिर्फ़ एक डायलाग नहीं हैं उनके हाथ सच में ढ़ाई किलो के हैं.
  • सनी का असली नाम अजय सिंह देओल हैं लेकिन घर में सभी उन्हें सनी कहकर बुलाते थे इसलिए इन्होंने सनी नाम से ही फ़िल्मों में डेब्यू किया. 
  • अपने पढ़ाई के दौरान सनी अक्सर अपने पापा की जीन्स पहन के जाते थे और सबसे कहते थे कि, यही जीन्स उनके पापा ने शोले फ़िल्म में पहनी थी. 
  • सनी देओल को अपने पापा की फ़िल्म 'ब्लैक' का एक गीत पल पल दिल के पास इनका पसंदीदा गीत हैं और इसी नाम से फ़िल्म बनाकर अपने बेटे कारन देओल का फ़िल्मी डेब्यू भी कराया हैं.  
  • सनी देओल को घूमने का बहुत शौक हैं  ये गोवा और दुबई को सबसे ज़्यादा पसंद करते हैं. 
  • सनी देओल कभी भी शराब और सिगरेट नहीं पीते हैं. 
  • ग़दर फ़िल्म करने के बाद कई सारी पाकिस्तानी एक्ट्रेस इनकी दीवानी हो गयी थी तो वहीं दूसरी तरफ ये भारत के पहले ऐसे हीरो हैं जिनकी फ़िल्में पाकिस्तान में रिलीज़ ही नहीं होती. 
  • डर मूवी 90 के दशक की सबसे बेहतरीन फ़िल्मों में से एक हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि सनी देओल को ये फ़िल्म बहुत ही ख़राब लगती हैं. इस फ़िल्म में काम करने के बावजूद भी ये फ़िल्म इनको पसंद नहीं हैं और एक बार डर के सेट पर ये इतना गुस्सा हो गए थे कि इन्होंने गुस्से में अपने जीन्स की पैंट तक फाड़ दी थी. 
  • दरअसल बात डर मूवी के किसी सीन की थी इन्होंने देखा की लोग इनकी बुराई कर रहे थे और इनका इतना गुस्सा आ गया की इन्होंने अपने जीन्स के पॉकेट में हाथ डाल कर उसे फाड़ दी थी. इसके बाद पूरे सेट पर लोग डर के इधर उधर भागने लगे थे. यहाँ तक की इन्होंने उस दिन के बाद से शाहरूख़ ख़ान से 16 साल तक बात नहीं की थी. 
  • सनी देओल लोगों से मिलना जुलना बहुत कम पसंद करते हैं और यही कारण हैं की वो कभी किसी पार्टी में नहीं जाते हैं. 



BJP leader Sunny Deol Story Biography

पॉलिटिकल  करियर 

एक सफल अभिनेता, निर्देशक  होने के साथ साथ सनी देओल एक राजनेता भी हैं.  साल 2019 में पंजाब के गुरदास पुर से वो लोक सभा इलेक्शन में चुनाव लड़ा और भरी मतों से जीते भी. 


सनी देओल की फ़िल्में और अवॉर्ड्स 

सनी देओल ने अपने फ़िल्मी करियर में कई सुपरहिट फ़िल्मों में बतौर एक्टर काम हैं जिसके लिए इन्हें कई सारे अवॉर्ड्स से सम्मानित किया गया है. जहाँ इनके पिता धर्मेंद्र को अपने पूरे करियर में एक भी नेशनल अवॉर्ड नहीं मिला तो वहीं दूसरी तरफ इन्हें दो दो नेशनल अवॉर्ड से नवाज़ा गया हैं. इनका पहला नेशनल अवॉर्ड 34 साल की उम्र में फ़िल्म 'घायल' के लिए दिया गया था. 

1983

  • Betaab

1984

  • Sunny
  • Manzil 
  • Sohni Mahiwal

1985

  • Arjun
  • Zabardast

1986

  • Sultanat
  • Saveray Wali Gaadi
  • Samundar

1987

  • Dacait

1988

  • Paap Ki Duniya
  • Ram-Avtar
  • Yateem
  • Inteqam

1989

  • Vardi
  • Joshilaay
  • Tridev
  • ChaalBaaz
  • Nigahen: Nagina Part II
  • Majboor
  • Main Tera Dushman
  • Aag Ka Gola

1990

  • Kroadh
  • Ghayal
  • Badnam

1991

  • Vishnu-Devaa
  • Yodha
  • Shankara
  • Narsimha

1992

  • Vishwatma

1993

  • Lootere
  • Kshatriya
  • Damini
  • Izzat Ki Roti
  • Veerta
  • Gunaah
  • Darr

1994

  • Insaniyat
  • Imtihaan

1995

  • Dushmani: A Violent Love Story
  • Angrakshak

1996

  • Himmat
  • Jeet
  • Ghatak: Lethal
  • Ajay

1997

  • Ziddi
  • Border
  • Aur Pyaar Ho Gaya
  • Qahar

1998

  • Zor
  • Salaakhen
  • Iski Topi Uske Sarr

1999

  • Pyaar Koi Khel Nahin
  • Arjun Pandit
  • Dillagi

2000

  • Champion

2001

  • Farz
  • Gadar: Ek Prem Katha
  • Yeh Raaste Hain Pyaar Ke
  • Indian
  • Kasam

2002

  • Maa Tujhhe Salaam
  • 23rd March 1931: Shaheed
  • Jaani Dushman: Ek Anokhi Kahani
  • Karz: The Burden of TruthSuraj Singh

2003

  • The Hero: Love Story of a Spy]
  • Kaise Kahoon Ke... Pyaar Hai
  • Jaal: The Trap
  • Khel – No Ordinary Game

2004

  • Lakeer – Forbidden Lines
  • Rok Sako To Rok Lo

2005

  • Jo Bole So Nihaal

2006

  • Naksha
  • Teesri Aankh: The Hidden Camera

2007

  • Big Brother
  • Fool & Final
  • Apne
  • Kaafila

2008

  • Tolly Lights
  • Heroes

2009

  • Fox
  • Punjab Gold

2010

  • Right Yaaa Wrong
  • Khuda Kasam
  • Hello Darling

2011

  • Yamla Pagla Deewana

2013

  • Yamla Pagla Deewana 2
  • Singh Saab the Great
  • Mahabharat

2014

  • Dishkiyaoon

2015

  • I Love New Year

2016

  • Ghayal Once Again

2017

  • Poster Boys

2018

  • Yamla Pagla Deewana: Phir Se
  • Mohalla Assi
  • Bhaiaji Superhit

2019

  • Blank
  • Pal Pal Dil Ke Paas