Roothna Shayari | रूठना शायरी Page: 1

Anurag Shukla
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images
मैं ही तो सब कुछ गलत करता हूँ

बाद में मुझ से ना कहना घर पलटना ठीक है
वैसे सुनने में यही आया है रस्ता ठीक है
शाख से पत्ता गिरे, बारिश रुके, बादल छटें
मैं ही तो सब कुछ गलत करता हूँ अच्छा ठीक है

Anurag Shukla
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images

आँख से दूर हो दिल से उतर जाएगा

वक़्त का क्या है गुज़रता है गुज़र जाएगा

Arvind Katiyar
स्वयं के शरीर का भी रखे ध्यान, स्वस्थ आहार और व्यायाम से शरीर हो बलवान।

जाने कब जाएगी ये आदत मेरी

रूठना तुमसे और औरों से उलझते रहना


Jane kan jayegi ye aadat meri

Roothna tumse aur auron se uljhte rahna

Page 2