Two Line Shayari

Reshu

Keep Smiling...
मैं बहुत दिनों से उदास हूँ - Intezzar shayari

जब कभी फुर्सत मिले मेरे दिल का बोझ उतार दो,

मैं बहुत दिनों से उदास हूँ मुझे कोई शाम उधार दो।


Reshu

Keep Smiling...
अजब चिराग हूँ - Sad shayari

अजब चिराग हूँ दिन-रात जलता रहता हूँ,

थक गया हूँ मैं हवा से कहो बुझाए मुझे।


Reshu

Keep Smiling...
Ajnabi shayari in Hindi

उसकी हर एक शिकायत देती है मुहब्बत की गवाही,

अजनबी से वर्ना कौन हर बात पर तकरार करता है.

Reshu

Keep Smiling...
Teacher student shayari

जल जाता है वो दिए की तरह,

कई जीवन रोशन कर जाता है।

कुछ इसी तरह से हर गुरु,

अपना फर्ज निभाता है।

Arvind Katiyar

स्वयं के शरीर का भी रखे ध्यान, स्वस्थ आहार और व्यायाम से शरीर हो बलवान।

मेरे “शब्दों” को इतने ध्यान से ना पढ़ा करो दोस्तों,

कुछ याद रह गया तो.. मुझे भूल नहीं पाओगे!

Arvind Katiyar

स्वयं के शरीर का भी रखे ध्यान, स्वस्थ आहार और व्यायाम से शरीर हो बलवान।

हुकुमत वो ही करता है जिसका दिलो पर राज हो!!

वरना यूँ तो गली के मुर्गो के सर पे भी ताज होता है!!

Page 2