Zikra Shayari | ज़िक्र शायरी Page: 2

Akansha Sharma
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images
Zikr Shayari

कहीं अब मुलाक़ात हो जाए हमसे,
बचा कर के नज़र गुज़र जाइएगा...
जो कोई कर जाए कभी ज़िक्र मेरा,
हंसकर फिर सारे इल्ज़ाम मुझे दे जाइएगा🤐...।।।

Akansha Sharma
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images
जिक्र और फिक्र शायरी

मेरी शायरी में सनम. तेरी कहानी है,
जिसके आधे हिस्से मे तेरा ज़िक्र आधे में मेरी दीवानगी है.

Akansha Sharma
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images
जिक्र और फिक्र शायरी

जो सामने जिक्र नही करते,
वो दिल ही दिल मे बहुत फिक्र करते हैं.

Akansha Sharma
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images
जिक्र और फिक्र शायरी

फ़िक्र तो तेरी आज भी है,
बस जिक्र का हक नही रहा

Akansha Sharma
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images
जिक्र और फिक्र शायरी

जिक्र अधूरी मोहब्बत का किसी से ना करना.
मैं खुद सबसे कह दूंगा की उन्हें फुरसत नही मिलती