Mirza Ghalib Shayari | Page: 1

Akansha Sharma
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images
कितना ख़ौफ होता है शाम के अंधेरों में।

कितना ख़ौफ होता है शाम के अंधेरों में।

पूछ उन परिंदों से जिनके घर नहीं होते।

Akansha Sharma
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images
इश्क़ पर जोर नहीं है ये वो आतिश ‘ग़ालिब’

इश्क़ पर जोर नहीं है ये वो आतिश ‘ग़ालिब’

कि लगाये न लगे और बुझाये न बुझे

Akansha Sharma
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images
हम को मालूम है जन्नत की हक़ीक़त लेकिन,

हम को मालूम है जन्नत की हक़ीक़त लेकिन,

दिल के खुश रखने को ग़ालिब ये ख़याल अच्छा हैं।

W3mirchi Team
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images

तुम मुझे कभी दिल, कभी आँखों से पुकारो ग़ालिब,

ये होठो का तकलुफ्फ़ तो ज़माने के लिए है|

W3mirchi Team
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images

हाथो की लकीरों पे मत जा ए ग़ालिब,
नसीब उनके भी होते हैं जिनके हाथ नहीं होते|

W3mirchi Team
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images
Page 2