Mirza Ghalib Shayari | Page: 1

Ravi Pal
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images
Hosh Shayari होश शायरी

समय रहते तुम होश में कैफ़ियत तलब करते तो अच्छा होता

अलविदा कहने से पहले ख़ैरियत सोचते तो अच्छा होता.

W3mirchi Team
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images

तुम मुझे कभी दिल, कभी आँखों से पुकारो ग़ालिब,

ये होठो का तकलुफ्फ़ तो ज़माने के लिए है|

W3mirchi Team
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images

हाथो की लकीरों पे मत जा ए ग़ालिब,
नसीब उनके भी होते हैं जिनके हाथ नहीं होते|

W3mirchi Team
Shayari, Slogans, Jokes, Quotes & Funny Images
Page 2