Karwa Chauth Shayari | करवा चौथ शायरी

Reshu
Keep Smiling...
बनकर धढकन सीने में मेरे - Karwa Chauth Shayari

अब तो आ ही गया चाँद

सनम तुम भी आ जाओ

बनकर धढकन सीने में मेरे

ऐ मेरे चाँद तुम समा जाओ |


Reshu
Keep Smiling...
सुहागन ने चाँद से थोडा सा रूप चुराया है - Karwa Chauth Shayari

करवा चौथ आया है

खुशियाँ हज़ार लाया है

हर सुहागन ने चाँद से

थोडा सा रूप चुराया है |


Reshu
Keep Smiling...
चाँद संग चांदनी -  Karwa Chauth Shayari

चाँद मे दिखती है मुझे मेरे पिया की सूरत, चाँद संग चांदनी सी है मुझे भी उनकी जरुरत |

Reshu
Keep Smiling...
हुआ खुशियो का आगाज़  - Karwa Chauth Shayari

इस जीवन मे मुझे जो मिला है तेरा साथ, दुःख सारे मिट गए, हुआ खुशियो का आगाज़ !!