क्रोध हवा का वह झोंका है 

जो बुद्धि के दीपक को बुझा देता है

 रिश्ते चाहे कितने ही बुरे हो उन्हें 

 तोड़ना मत क्योंकि पानी चाहे

 कतना भी गंदा हो अगर

 प्यास नहीं बुझा सकता 

पर आग तो बुझा सकता है

           

Click Here To Read Full Post

3577 Views