Shayari in hindi

तुमने समझा ही नहीं और ना समझना चाहा,

 हम चाहते ही क्या थे तुमसे "तुम्हारे सिवा" 

Click Here To Read Full Post

94644 Views


चाहता कौन है बेवफ़ायी करना 

उसने परिवार सम्भाला होगा

यही सोच कर समझाता हूँ ख़ुदको

मजबूर होकर मुझे दिल से निकाला होगा

Click Here To Read Full Post

72023 Views