मुसीबत में शरीफों की शराफत कभी कम नहीं होती

सोने के कितने भी टुकड़े करदो , उसकी कीमत कभी कम नहीं होती

प्यार करते हो मुझसे तो इज़हार कर दो,

अपनी मोहब्बत का ज़िकर आज सरे आम कर दो नहीं करते

अगर सच्ची मोहब्बत तो इंकार कर दो,

ये लो मेरा नादान दिल इसके टुकड़े हज़ार करदो.

Click Here To Read Full Post

45 Views

Shayari shayari me izhhar ho jaye.
Shayari shayari me ikrar ho jaye.
Me tum ko kahu I lovu u.
Aur tumhe mujhse pyar ho jaye.

Click Here To Read Full Post

4985 Views

इश्क़ वही है जो हो एकतरफा हो 

इज़हार-ऐ-इश्क़ तो ख्वाहिश बन जाती है 

है अगर मोहब्बत तो आँखों में पढ़ लो 
ज़ुबान से इज़हार तो नुमाइश बन जाती है

Click Here To Read Full Post

15572 Views

लोग पूछते हैं हमसे 

कि तुम अपने प्यार का इज़हार क्यों नहीं करते;

तो हमने कहा जो लफ़्ज़ों में बयां हो जाए

हम उनसे प्यार उतना नहीं करते…

Click Here To Read Full Post

324 Views

Aankho ki gehrai ko samaz nahi sakte,
honto se kuch keh nahi sakte.
Kaise baya kare hum aapko yeh dil ka haal ki,
tumhi ho jiske bageir hum reh nahi sakte.


Click Here To Read Full Post

6161 Views

उन को चाहना मेरी मोहब्बत है 
उन्हें कह न पाना मेरी मजबूरी है 
वो खुद क्यों नही समझता मेरे दिल की बात को 
क्या प्यार का इज़हार करना ज़रूरी है

Click Here To Read Full Post

15490 Views