देखकर मेरी आँखें एक फकीर कहने लगा,


   पलकें तुम्हारी नाज़ुक है, 


   खवाबों का वज़न कम कीजिये...!

Click Here To Read Full Post

451 Views