कितने चेहरे थे हमारे आस-पास 
तुम हि तुम दिल में मगर बसते रहे..!!

Click Here To Read Full Post

19983 Views

आँखें खुली हो तो चेहरा आपका हो, 
आँखें बध हो तो सपना आपका हो, 
हमे मौत का ना दर्र ना ख़ौफ्फ होगा, 
अगर कफ़न की जगह दुपट्टा आपका हो !

Click Here To Read Full Post

25461 Views

ये चाँद सा रोशन चेहरा, 
जुल्फों का रंग सुनहरा 
ये झील सी नीली आँखे, 
कोई राज है इन में गहरा 
तारीफ़ करूँ क्या उसकी, 
जिसने तुम्हें बनाया

Click Here To Read Full Post

26083 Views

Is qadarr tora hai mujhe uss ke bewafayi ne "ghalib"

Ab koi agar pyar se bhi dekhahai  to bikhar jata hoon main.

Click Here To Read Full Post

41678 Views

यही चेहरा..
यही आंखें..
यही रंगत निकले, 
जब कोई ख्वाब तराशूं..
तेरी सूरत निकले..

Click Here To Read Full Post

25887 Views

आपने नज़र से नज़र कब मिला दी, 
हमारी ज़िन्दगी झूमकर मुस्कुरा दी, 
जुबां से तो हम कुछ भी न कह सके, 
पर निगाहों ने दिल की कहानी सुना दी!

Click Here To Read Full Post

25604 Views

तेरा चेहरा है आईने जैसा क्यो न देखूहै देखने जैसा 
तुम कहो तो मैं पूछ लू तुमसे है सवाल एक पूछने जैसा 
दोस्त मिल जायेगे कई लेकिन न मिलेगा कोई मेरे जैसा 
तुम अचानक मिले थे जब पहले पल नहीं है वो भूलने जैसा..

Click Here To Read Full Post

25539 Views