वो बचपन भी क्या दिन थे मेरे..! 
न फ़िक्र कोई..न दर्द कोई..!! 
बस खेलो, खाओ, सो जाओ..! 
बस इसके सिवा कुछ याद नहीं..!

Click Here To Read Full Post

914 Views

एक बचपन का जमाना था, 
जिस में खुशियों का खजाना था. 
चाहत चाँद को पाने की थी, 
पर दिल तितली का दिवाना था..

Click Here To Read Full Post

895 Views

बचपन की कहानी याद नहीं..! 
बातें वो पुरानी याद नहीं..!! 
माँ के आँचल का इल्म तो है..! 
पर वो नींद रूहानी याद नहीं..!!

Click Here To Read Full Post

938 Views