हमे बेवफा बोलने वाले 

आज तू भी सुनले, 

जिनकी फितरत ‘बेवफा’ 

होती है, 

उनके साथ कब ‘वफा’ होती है!!

Click Here To Read Full Post

11908 Views

Shayari in hindi


    हर किसी के नसीब में

  कहां लिखी होती है चाहतें

कुछ लोग दुनिया में आते है सिर्फ

      तन्हाइयो के लिए 

Click Here To Read Full Post

39860 Views

Shayari in hindi

तुमने समझा ही नहीं और ना समझना चाहा,

 हम चाहते ही क्या थे तुमसे "तुम्हारे सिवा" 

Click Here To Read Full Post

180095 Views

बहुत दूर है तुम्हारे घर से हमारे घर का किनारा,
पर हम हवा के हर झोंके से पूछ लेते हैं क्या हाल है तुम्हारा।

Click Here To Read Full Post

26150 Views

आंसुओं की किम्मत क्या है
हम बखुबी समझते है ।
वो कोई और होंगे ए सनम
जो ओस को शबनम समझते है ॥

Click Here To Read Full Post

2062 Views

Shayari in hindi

लिखना था कि खुश है तेरे बगैर भी यहाँ 

               हम,

मगर कम्बख्त आंसू है कि कलम से पहले 

        ही चल दिए...

Click Here To Read Full Post

37032 Views

Aa Bichadne Ka Koi Aur Tareeqa Dhoodhen
Pyyar Badhta Hai Meri Jaaan Khafa Rahne Se

Click Here To Read Full Post

9214 Views

तरस आता है मुझे अपनी मासूम सी पलकों पर,
जब भीग कर कहती है की अब रोया नहीं जाता।

Click Here To Read Full Post

14834 Views

आंखों के हर कतरे का बोझ उठाता था, उठाता हूँ और उठाता रहूँगा ।
मगर आंसुओं को ना कभी बेवफा कहूँगा ।
इस जन्म का जो कर्ज है अगले जन्म में जरूर बगैर कर्ज मुस्कराउंगा ।

Click Here To Read Full Post

2023 Views