Shayari - Shivaratri

मुझमें कोई छल नहीं, तेरा कोई कल नहीं

मौत के ही गर्भ में, ज़िंदगी के पास हूँ

अंधकार का आकार हूँ, प्रकाश का मैं प्रकार हूँ

मैं शिव हूँ। मैं शिव हूँ। मैं शिव हूँ।

Click Here To Read Full Post

2697 Views


बाबा ने जिस पर भी डाली छाया

रातो रात उसकी किस्मत की पलट गई छाया

वो सब मिला उसे बिन मांगे ही

जो कभी किसी ने ना पाया

शिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं

Click Here To Read Full Post

1947 Views

बम भोले डमरू वाले शिव का प्यारा नाम है

भक्तो पे दर्श दिखाता हरी का प्यारा नाम है

शिव जी की जिसने दिल से की है पूजा

भगवान् शंकर ने सवारा उसका काम है !

Click Here To Read Full Post

12455 Views