मैं फ़रमाईश हूँ उसकी

18351 Views

मैं फ़रमाईश हूँ उसकी, 
वो इबादत है मेरी, 
इतनी आसानी से कैसे निकाल दू उसे अपने दिल से, 
मैं ख्वाब हूँ उसका, वो हकीकत है मेरी…

Post a comment

Comments

    No comment found. Be the first to write a comment!